जब तक हमारे जीवन मे परेशानी नही आती तब तक हम कुछ नही सीख सकते motivational speech in hindi

Posted on
motivational speech in hindi
motivational speech in hindi

motivational speech in hindi : आज इस पोस्ट में हम आपके लिए जिंदगी में आने वाली बाधाओं की हमारे जीवन मे क्या भूमिका है इस विष्य मे आपको जानकारी देंगे हमारे परेशानी के वक़्त निराश नही होना चहिये हमे उसका डट कर कर मुकाबला करना चाहिए आइए आज आपको एक कहानी के माध्यम से इस विष्य में जानकारी देते है motivational speech in hindi ।।

motivational speech in hindi

जीवन में आने वाली बाधाओं की वजह से हमारी प्रतिभा निखरती है, साहस बढ़ता है और हम अपने लक्ष्य की ओर आगे बढ़ते हैं। इस संबंध में एक लोक कथा प्रचलति है कि पुराने समय में एक किसान की फसल बार-बार खराब हो रही थी। कभी तेज बारिश की वजह से, कभी तेज धूप की वजह से, कभी ठंड की वजह से उसकी फसल पनप नहीं पा रही थी। एक दिन इससे दुखी होकर किसान भगवान पर नाराज हो गया। वह भगवान को लगातार कोस रहा था। तभी वहां भगवान प्रकट हुए।

motivational speech in hindi

किसान ने भगवान से कहा कि भगवन् आपको खेती की बिल्कुल भी जानकारी नहीं है, आप गलत समय पर बारिश कर देते हो, कभी भी तेज धूप कर देते हो और कभी भी ठंड बढ़ा देते हो। इससे हर बार मेरी फसल खराब हो रही है। आप मेरी अगली फसल तक मेरे अनुसार मौसम कर दीजिए। जैसा मैं चाहूं, वैसा ही मौसम रहे।

अपने भक्त किसान की ये बातें सुनकर भगवान ने कहा कि ठीक है अब से ऐसा ही होगा। ये बोलकर वे अंर्तध्यान हो गए। अगले दिन से किसान ने फिर से गेहूं की खेती शुरू कर दी।

किसान ने जब चाहा तब बारिश हुई, फसल के लिए जब धूप की जरूरत होती, तब धूप निकलती। इस तरह उसकी इच्छा के अनुसार मौसम चल रहा था। धीरे-धीरे उसकी फसल तैयार हो गई। हरे-भरे खेत को देखकर किसान बहुत खुश था। जब फसल कटाई का समय आया तो उसने देखा कि फसल की बालियों में गेहूं थे ही नहीं, सब की सब खोखली बालियां थीं।

खोखली बालियां देखकर उसने फिर से भगवान को याद किया। भगवान प्रकट हुए तो इसकी वजह पूछी। भगवान ने कहा कि तुम्हारी फसल ने बिल्कुल भी संघर्ष नहीं किया है, इसी वजह से ये खोखली हो गई है। जब फसलें तेज बारिश में, तेज हवा में खुद को बचाए रखने का संघर्ष करती है, तेज धूप से लड़ती है, तभी उसमें दाने बनने की प्रक्रिया शुरू होती है। जिस तरह सोने को चमकने के लिए आग में तपना पड़ता है, उसी तरह फसलों के लिए भी संघर्ष जरूरी होता है। ये बात किसान को समझ आ गई और उसे अपनी भूल का अहसास हो गया।

यही बात हमारे जीवन पर भी लागू होती है। जब तक हमारे जीवन में बाधाएं नहीं आती है, तब तक हमारी प्रतिभा में निखार नहीं आता है। बाधाएं ही हमें साहसी बनाती हैं। प्रतिभा और साहस की वजह से हम बड़े-बड़े लक्ष्य तक आसानी से पहुंच सकते हैं।

कोशिश और संघर्ष के बिना कोई भी महान नहीं बन सकता। जब तक हथौड़े की चोट ना पड़े तब तक पत्थर भी भगवान नहीं बन सकता कोशिश करोगे तो संघर्ष होगा और संघर्ष होगा तभी सफलता मिलेगी।

8 comments

  1. ÒM ÒM OM OM OM OM OM
    EK BHOLA BHALA ADMI BIMARI K AWASTHA ME KHUSHI RAHTA HAI KUCHH DURI BANAKAR K OUR WO HAMESHA HI UNANNATI KARTE RAHTA KARMO K DHANI OUR BALWAN HOTE RAHTA HAI
    KHUSHI EK ACHCHHA BANK ACCOUNT EK ACHCHHA COOCK OUR EK ACHCHHA HAJMA HAI
    SHIV SHARAN SHIV BARAN
    BHARAT MATA KI JAI
    MERA BHARAT MAHAN
    ÒM OM OM OM OM OM OM

  2. राधे राधे आपके संदेश प्रेरणादायक है जो कि जीवन में एक नई दिशा प्रदान करने में सहायक हो सकते है लेकिन कृपया साम्प्रदायिकता ना फैलाए हिन्दू का उद्देश्य सभी के जीवन को नैतिक बनाना है अहंकार करना नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *