इंसान की कीमत moral stories in hindi

Posted on
moral stories in hindi
moral stories in hindi

moral stories in hindi 2020 – एकबार एक टीचर क्लास में पढ़ा रहे थे| बच्चों को कुछ नया सिखाने के लिए टीचर ने जेब से 100 रुपये का एक नोट निकाला| अब बच्चों की तरफ वह नोट दिखाकर कहा – क्या आप लोग बता सकते हैं कि यह कितने रुपये का नोट है ?

सभी बच्चों ने कहा – “100 रुपये का”

टीचर – इस नोट को कौन कौन लेना चाहेगा ? सभी बच्चों ने हाथ खड़ा कर दिया|

अब उस टीचर ने उस नोट को मुट्ठी में बंद करके बुरी तरह मसला जिससे वह नोट बुरी तरह कुचल सा गया| अब टीचर ने फिर से बच्चों को नोट दिखाकर कहा कि अब यह नोट कुचल सा गया है अब इसे कौन लेना चाहेगा ?

moral stories in hindi

सभी बच्चों ने फिर हाथ उठा दिया।

अब उस टीचर ने उस नोट को जमीन पर फेंका और अपने जूते से बुरी तरह कुचला| फिर टीचर ने नोट उठाकर फिर से बच्चों को दिखाया और पूछा कि अब इसे कौन लेना चाहेगा ?

[su_permalink title=”नन्हीं चिड़िया moral stories in hindi” rel=”https://hindihelpfull.info/moral-stories-in-hindi-1/”]नन्हीं चिड़िया moral stories in hindi[/su_permalink]

सभी बच्चों ने फिर से हाथ उठा दिया|

अब टीचर ने कहा कि बच्चों आज मैंने तुमको एक बहुत बड़ा पढ़ाया है| ये 100 रुपये का नोट था, जब मैंने इसे हाथ से कुचला तो ये नोट कुचल गया लेकिन इसकी कीमत 100 रुपये ही रही, इसके बाद जब मैंने इसे जूते से मसला तो ये नोट गन्दा हो गया लेकिन फिर भी इसकी कीमत 100 रुपये ही रही|

moral stories in hindi – ठीक वैसे ही इंसान की जो कीमत है और इंसान की जो काबिलियत है वो हमेशा वही रहती है| आपके ऊपर चाहे कितनी भी मुश्किलें आ जाएँ, चाहें जितनी मुसीबतों की धूल आपके ऊपर गिरे लेकिन आपको अपनी कीमत नहीं गंवानी है| आप कल भी बेहतर थे और आज भी बेहतर हैं|

[su_note note_color=”#fafe27″]मित्रों हमे उम्मीद है आपको हमारी आज की पोस्ट moral stories in hindi बहुत अच्छी लगी होगी रोजाना ऐसी ही पोस्ट प्राप्त करने हेतु हमसे जुड़े रहे और आपको पोस्ट अच्छी लगी तो अपने परिवार के सदस्यों को व्हाट्सएप में शेयर जरूर करें धन्यवाद 💐💐[/su_note]

18 comments

    1. ÒM ÒM OM OM OM OM OM
      ITIHAS HAMESHA SIKHATA HAI KI GALAT RASTA CHHORE NAHI TO BURAI HAMARA PICHHA NAHI CHHORTA
      JAHA ACHCHHAI HAI WAHA ANMOL VACHAN OUR MAHAN MARGDARSHAK V
      JAI SANATAN
      MERA BHARAT MAHAN
      BHARAT MATA KI JAI
      ÒM OM OM OM OM OM OM

  1. ÒM ÒM OM OM OM OM OM
    ITIHAS HAMESHA SIKHATA HAI KI GALAT RASTA CHHORE NAHI TO BURAI HAMARA PICHHA NAHI CHHORTA
    JAHA ACHCHHAI HAI WAHA ANMOL VACHAN OUR MAHAN MARGDARSHAK V
    JAI SANATAN
    MERA BHARAT MAHAN
    BHARAT MATA KI JAI
    ÒM OM OM OM OM OM OM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *