All parties from Bihar came together to give justice to Sushant | सुशांत को न्याय दिलाने के लिए बिहार के सभी दल आए संग-संग



पटना, 31 जुलाई (आईएएनएस)। बिहार की राजधानी पटना के रहने वाले बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के करीब 40 दिन के बाद पटना में दिवंगत अभिनेता के पिता द्वारा थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी के बाद बिहार की राजनीतिक पार्टियां भी एक साथ खड़ी नजर आ रही हैं। सभी पार्टियां एक स्वर में सुशांत के न्याय मिलने की बात कर रही है।

इस मामले को पटना से मुंबई स्थानांतरित किए जाने को लेकर रिया चक्रवर्ती की ओर से दाखिल याचिका के बाद बिहार सरकार ने भी सर्वोच्च न्यायालय में कैविएट दाखिल किया है।

सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार ने कहा कि बिहार सरकार जरूर विरोध करेगी। यह न्यायिक प्रक्रिया है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में भी इस मामले की प्राथमिकी दर्ज होने के बाद बिहार पुलिस मुंबई पुहंचकर मामले की जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले में पूरा देश सच जानना चाहती है और बिहार सरकार सच के साथ है।

इधर, सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रवक्ता प्रेमरंजन पटेल ने बिहार सरकार द्वारा कैविएट दाखिल किए जाने को सही कदम बताते हुए कहा कि बिहार पुलिस जांच के लिए मुंबई पहुंची है लेकिन वहां अपेक्षित सहयोग नहीं मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार के गृह मंत्री सीबीआई जांच की मांग नकार चुके हैं, ऐसे में जब बिहार पुलिस जांच कर रही है तो मामला महाराष्ट्र लाने की व्यग्रता क्यों है। उन्होंने कहा कि भाजपा सुशांत मामले में उनके परिजनों के साथ है और कैविएट दर्ज की है। इस मामले की निष्पक्ष जांच और सीबीआई जांच होनी चाहिए।

इधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ललन कुमार ने कहा कि कांग्रेस भी सुशांत के परिवार के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि इस मामले की निष्पक्ष जांच के लिए सीबीआई जांच होनी चाहिए और पटना में जो प्राथमिकी दर्ज की गई है उसकी जांच बिहार पुलिस द्वारा ही की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस भी रिया की ओर से दाखिल याचिका का विरोध करेगी।

इधर, युवा राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष अजीत यादव ने कहा कि हमारे नेता तेजस्वी यादव पटना के रहने वाले सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या मामले में सच लाने के लिए संकल्पित है। प्रारंभ से ही राजद सुशांत के परिजनों के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि राजद सुशांत को न्याय दिलाकर रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *